दुनिया स्वास्थ्य संगठन ने बताई ये असलियत कोरोना से लड़ रही संसार के लिए खुशखबरी, पढ़े खबर

दुनिया स्वास्थ्य संगठन ने बताई ये असलियत कोरोना से लड़ रही संसार के लिए खुशखबरी, पढ़े खबर

कोरोना वायरस (Coronavirus) से लड़ रही संसार के लिए एक खुशखबरी है। संसार को बहुत जल्दी कोरोना वायरस की वैक्सीन यानी टीका मिल सकता है। आप सोच रहे होंगे कि ये तो पहले भी कितनी बार सुन चुके हैं कि कोरोना की वैक्सीन आने वाली है लेकिन अब दुनिया स्वास्थ्य संगठन ने इसकी असलियत बताई है।

इस समय संसार भर में COVID-19 से 1 करोड़ से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं व 5 लाख से ज्यादा लोगों की मृत्यु हो चुकी है। ऐसे में लोग घबराए हुए हैं आखिर कब व कैसे इस कोरोना वायरस से छुटकारा मिलेगा। लेकिन अब बहुत जल्द कोरोना से सुरक्षा का कवच मिलने वाला है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक AstraZeneca फार्मा कंपनी की COVID-19 की वैक्सीन ChAdOx1 nCoV-19 जिसे AZD1222 भी बोला जाता है, उसका ट्रायल आखिरी चरण में है। दुनिया स्वास्थ्य संगठन में मुख्य वैज्ञानिक के पद पर कार्य कर रहीं चिकित्सक सौम्या स्वामीनाथन के मुताबिक AZD1222 टीका इंसानों पर ट्रायल के आखिरी चरण में है व बाकी बनाई जा रहीं वैक्सीन के मुकाबले AstraZeneca फार्मा कंपनी सबसे आगे है। इसका ट्रायल ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका व ब्राजील में चल रहा है। इस टीके को 10,260 लोगों को दिया जाएगा। AZD1222 टीके को ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के जेनेर इंस्टिट्यूट ने बनाया है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक एक दूसरी दवा कंपनी Moderna कंपनी कोरोना वैक्सीन mRNA 1273 पर बहुत ज्यादा तेजी से कार्य कर रही है लेकिन वैसे AstraZeneca फार्मा कंपनी पर WHO को ज्यादा विश्वास है।

AstraZeneca कंपनी का दावा है कि कोविड-19 वायरस का टीका इस वर्ष के अंत तक मार्केट में आ जाएगा। इस वर्ष के अंत तक यूरोप में कोरोना वायरस के टीके की 40 करोड़ डोज की डिलीवरी की जाएगी।

वहीं दुनिया स्वास्थ्य संगठन ने भी बड़ा बयान देते हुए बोला है कि वो संसार भर के राष्ट्रों को कोरोना के 2 अरब से ज्यादा टीके उपलब्ध करवाएगा लेकिन ये अभी तुरंत नहीं होने जा रहा है। दुनिया स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक ये टीका 2021 के अंत से पहले संसार को मिलेगा।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टेड्रोस घेब्रेयेसस ने बोला कि ये बात तो साफ है कि कोरोना को नियंत्रित करने व लोगों के ज़िंदगी को बचाने के लिए प्रभावी वैक्सीन की आवश्यकता है जो कि बेहद तेजी व बहुत बड़ी संख्या में चाहिए होगी। यह स्पष्ट है कि सभी लोगों को COVID-19 से खतरा है इसीलिए सभी लोगों की पहुंच इसे रोकने, पता लगाने व इलाज करने के लिए सभी उपकरणों तक होनी चाहिए, ना कि केवल उन लोगों के पास इसकी पहुंच हो जो वैक्सीन के लिए पैसे चुका सकते हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के ये बयान कोरोना से युद्ध में नयी उम्मीद व नयी शक्ति की तरह हैं। अगर सब कुछ अच्छा रहा तो बहुत जल्द संसार को कोरोना वायरस का टीका मिलेगा। एक ऐसा कवच जिससे धारण करने के बाद कोरोना पराजय जाएगा।