वैज्ञानिकों का बड़ा खुलासा, देश के 19 राज्यों में मिले कोरोना के ए2ए जीनोम

वैज्ञानिकों का बड़ा खुलासा,  देश के 19 राज्यों में मिले कोरोना के ए2ए जीनोम

कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते मुद्दे भले ही हर किसी को परेशान कर रहे हो लेकिन वैज्ञानिकों ने आने वाले दिनों में राहत के इशारा दिए हैं। 

वैज्ञानिकों के मुताबिक अभी तक कोरोना (Corona) के हर प्रदेश में भिन्न भिन्न रूप सामने आ रहे थे लेकिन पिछले एक महीने से संक्रमित मरीजों में एक या दो तरह के जीनोम (coronavirus genome) ही दिखाई दे रहे हैं। वैज्ञानिकों के मुताबिक देश के 19 राज्यों में कोरोना के ए2ए जीनोम मिले हैं।

ने कोरोना के बारे में व अधिक जानकारी लेने के लिए देशभर से 1 हजार से ज्यादा क्लैड इकट्ठा किए थे। जाँच में वैज्ञानिकों ने पाया कि इनमें से 617 मरीजों में ए2ए जिनोम मिला जबकि 249 जीनोम ए3आई स्ट्रेन से जुड़े हैं। कोरोना के ये दोनो ही स्ट्रेन बाकी की तुलना में कम असरदार हैं। वैज्ञानिकों के मुताबिक इन जिनोमा के कम असरदार होने के कारण संक्रमित मरीज इससे जल्द ही अच्छा हो जाते हैं। इस तरह के जिनोमा कम खतरनाक होता है व मरीज पर इसका गंभीर परिणाम देखने को नहीं मिलता है।

सीसीएमबी के निदेशक डाक्टर राकेश मिश्रा ने बताया कि पहली बार 19 प्रदेश की 33 प्रयोगशाला से 1031 क्लैड इकट्ठा किए हैं। बताया जाता है कि इन राज्यों में से जिन 1031 क्लैड को इकट्ठा किया गया है उनमें से 65 फीसदी पुरुष व 35 प्रतिशत महिला मरीज शामिल हैं। मरीजों की जिनोम की जाँच में राहत देने वाली बात ये हैं कि कोरोना अब अपना रूप नहीं बदल रहा है। इससे इसका उपचार करने में भी डॉक्टरों को सरलता होगी है। इसके साथ ही मरीजों में जिस तरह के जिनोम मिले हैं वह ज्यादा खतरनाक नहीं हैं।



देश में कोरोना से अब तक 16,475 लोगों की हुई मौत
देश में कोरोना वायरस के मुद्दे हर दिन नए रिकॉर्ड बना रहे हैं। देश में अब तक कोरोना से 5 लाख 48 हजार 318 लोग संक्रमित हो चुके हैं, ज​बकि 16, 475 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। बता दें कि देश में इस समय 210120 एक्टिव केस हैं जबकि 321722 मरीज अच्छा होकर घर जा चुके हैं। हिंदुस्तान में कोरोना का रिकवरी रेट 59% तक पहुंच गया है।