दिल्ली में 24 घंटे के भीतर मर्डर की 9 वारदातें, AAP प्रवक्ता बोलीं- राजधानी में बदतर हो चुकी है कानून व्यवस्था

दिल्ली में 24 घंटे के भीतर मर्डर की 9 वारदातें, AAP प्रवक्ता बोलीं- राजधानी में बदतर हो चुकी है कानून व्यवस्था

दिल्ली में पिछले 24 घंटे के भीतर 9 हत्याओं के बाद दिल्ली सरकार ने प्रदेश का बिगड़ती कानून व व्यवस्था की स्थिति पर सवाल उठाए हैं.आम आदमी की प्रवक्ता आतिशी ने इसके लिए केन्द्र की बीजेपी नीत सरकार को जिम्मेदार ठहराया है. आतिशी ने बोला कि दिल्ली में कानून व व्यवस्था की स्थिति दिन ब दिन बेकार होती जा रही है. इस बिगड़ती स्थिति के लिए सिर्फ बीजेपी जिम्मेदार है.

उन्होंने बोला कि पिछले 24 घंटों में 9 लोगों की मर्डर हो चुकी है. इसके अतिरिक्त पिछले 30 दिन के भीतर दिल्ली में भिन्न-भिन्न क्षेत्रों में अपराधियों की तरफ से 220 गोलीबारी की घटनाओं को अंजाम दिया गया है. आतिशी ने बोला कि दिल्ली में स्थिति यह है कि लोग रात को 8 बजे के बाद अपने घरों से निकलने में डरने लगे हैं.

उन्होंने बोला कि क्रिमिनल सरेआम कानून व व्यवस्था का माखौल उड़ा रहे हैं. ऐसे में केन्द्र सरकार को जवाब देना होगा कि वह राष्ट्रीय राजधानी के लोगों की सुरक्षा के लिए क्या नीतियां तैयार कर रही है. उन्होंने बोला कि दिल्ली में उपराज्यपाल, सातों सांसद व गृह मंत्रालय की क्या जिम्मेदारी है. आतिशी ने बोला कि बीजेपी बताए कि वह दिल्ली के लोगों की सुरक्षा कैसे सुनिश्चित करेगी.

वहीं बीजेपी के प्रवक्ता प्रवीण शंकर कपूर का बोलना है कि बेशक दिल्ली में पिछले दिनों मर्डर की घटनाओं में बढ़ोतरी हुई है लेकिन इसमें ज्यादातर घटनाओं मे करीबियों का ही हाथ है. दिल्ली पुलिस न केवल क्राइम को रोकने के भरसक कोशिश कर रही है बल्कि इन मामलों को जल्द से जल्द सुलझा भी रही है.

कांग्रेस प्रवक्ता जितेंद्र कोचर ने भी बीजेपी पर निशाना साधते हुए बोला कि दिल्ली में क्राइम बेकाबू होते जार रहे हैं. दिल्ली में आए दिन लोगों की हत्याएं हो रही हैं. दिल्ली पुलिस क्राइम पर नकेल कसने में पूरी तरह से नाकाम साबित रही है. दिल्ली इस समय ‘क्राइम कैपिटल’ बन चुकी है. कोचर ने बोला कि रात तो छोड़िए लोग अब दिन में भी सड़क पर निकलने में डरने लगे हैं.

मालूम हो कि दिल्ली में 21 जून को एक टीचर ने अपनी पत्नी व तीन बच्चों की गला रेत कर मर्डर कर दी थी. वहीं 22 जून को शाम करीब 7 बजे भगवती गार्डन इलाके में दृष्टिबाधित शिक्षक व उसकी पत्नी की मर्डर कर दी गई थी. 22 जून को रात 1.30 बजे वसंत विहार में बुजुर्ग दंपती व नौकरानी की निर्मम ढंग से मर्डर कर दी गई थी.