उच्चतम न्यायालय में आज फि‍र टल गई इस अहम् मुद्दे की सुनवाई, पढ़े पूरी खबर

उच्चतम न्यायालय में आज फि‍र टल गई इस अहम् मुद्दे की सुनवाई, पढ़े पूरी खबर

सियासी ड्रामे का अंत होते कनार्टक विधानसभा में दिख नहीं रहा है। उच्चतम न्यायालय में आज फि‍र मुद्दे की सुनवाई टल गई है। बागी विधायकों के एडवोकेट मुकुल रोहतगी ने उच्चतम न्यायालय में बोला कि स्‍पीकर शक्ति परीक्षण के तहत होने वाली वोटिंग को जानबूझ कर लटकाने की प्रयास कर रहे हैं।

उच्चतम न्यायालय, कर्नाटक संकट, के लिए इमेज परिणाम

रोहतगी ने सर्वोच्‍च न्यायालय से यह विनती की कि वह स्पीकर को आदेश दे कि वह आज ही शाम को छह बजे तक कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार की विश्वासमत के लिए वोटिंग की प्रक्रिया को पूरा कराएं। न्यायालय में स्‍पीकर की ओर से यह बोला गया कि आज शाम तक विश्‍वास मत पर वोटिंग होने की आसार है। इस पर न्यायालय ने दो निर्दलीय विधायकों की ओर से दायर की गई याचिकाओं पर सुनवाई कल यानी बुधवार तक के लिए स्‍थगित कर दी। आइए जानते है पूरी जानकारी विस्तार से

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार ने सोमवार को आधी रात के बाद मतदान कराए बगैर ही सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी थी। आज फिर से विश्वास मत पर बहस हो रही है। उम्‍मीद है कि शाम तक शक्ति प‍रीक्षण पर वोटिंग कराई जा सकती है। कनार्टक विधानसभा में सोमवार को रात भर चले सियासी ड्रामे के बाद अब विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार (KR Ramesh Kumar) ने विस अध्यक्ष ने बागी विधायकों को मिलने के लिए भी बुलाया है। साथ ही शक्ति परीक्षण के लिए डेड लाइन भी दी है। स्‍पीकर ने कुमारस्‍वामी (HD Kumaraswamy) सरकार को मंगलवार शाम छह बजे तक बहुमत साबित करने का वक्‍त दिया है।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि बागी विधायकों के एडवोकेट मुकुल रोहतगी ने बताया कि उच्चतम न्यायालय ने एक आदेश पारित करते हुए बोला कि न्यायालय यह उम्‍मीद करती है कि आज फ्लोर टेस्‍ट हो जाएगा। मुझे उम्मीद है कि इस आदेश से स्‍पीकर को पता चल जाएगा कि उनकी स्थिति क्‍या है व संविधान उन्‍हें किस दायित्‍व के लिए बाध्‍य करता है।