हिंदुस्तान से पाक की पराजय के बाद फूट-फूटकर रोने वाला वो लड़का कौन है?

हिंदुस्तान से पाक की पराजय के बाद फूट-फूटकर रोने वाला वो लड़का कौन है?

मैनचेस्टर में हिंदुस्तान व पाक के बीच मुकाबले में पाक की पराजय के बाद सोशल मीडिया पर तमाम पाकिस्तानी फैंस अपना दुख जताते हुए नजर आए थे. ऐसे ही एक फैन मोमिन साकिब ने मैच के बाद अपनी भावनाएं जाहिर की थीं. चुटीले पंचों व कॉमिक टाइमिंग से लैस उनकी रिएक्शन सोशल मीडिया पर वायरल हो गई. इसके बाद से इंटरनेट पर लोगों के बीच उन्हें लेकर एक तरह की दिलचस्पी पैदा हो गई है. आइए जानते हैं इनके बारे में

कौन हैं मोमिन साकिब? साकिब के फेसबुक प्रोफाइल के मुताबिक, उनके नाम किंग्स कॉलेज लंदन की लंदन स्टूडेंट यूनियन के पहले गैर-यूरोपीय अध्यक्ष बनने का रिकॉर्ड पंजीकृत है. वह कॉलेज काउंसिल के भी मेम्बर रह चुके हैं जो कि उनके विश्वविद्यालय की सबसे बड़ी गवर्निंग बॉडी थी. सोशल मीडिया पर उनका वीडियो वायरल होने के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि वो एक कॉमेडियन, यूट्यूबर या ब्लॉगर हैं, लेकिन वार्ता में उन्होंने बताया है कि वह यूट्यूबर या ब्लॉगर नहीं हैं. मोमिन कहते हैं, "मैं एक सामान्य आदमी हूं. स्नैपचैट पर अपने वीडियो प्रकाशित करता हूं. लेकिन मेरे वीडियो को दस हजार लोग देखते हैं. हमारे लोगों को लगता है कि आप अगर गंभीर पढ़ाई करते हैं तो आप एक्टिंग नहीं कर सकते या आप एक्टिंग करते हैं तो गंभीर पढ़ाई नहीं कर सकते. हमारे लोगों को अपनी सोच बदलने की आवश्यकताहै."

भारतीयों से क्या बोलना चाहते हैं मोमिन हिंदुस्तानियों की बात करते हुए मोमिन कहते हैं, "मैं अपने भारतीय दोस्तों से बोलना चाहता हूं कि अपने अंदर थोड़ी सहिष्णुता लाएं. हमें वार्ता करके मसलों को हल करना चाहिए. हम एक ऐसी रणनीतिक स्थान पर हैं जहां से हम पूरी संसार पर राज कर सकते हैं. आप लोग थोड़ी मोहब्बत तो करके देखें व हम भी कर रहे हैं." इसके साथ ही अपने वीडियो पर मिल रही प्रतिक्रियाओं पर उन्होंने बोला कि हमें बहुत अच्छी प्रतिक्रियाएं मिल रही हैं व कुछ ऐसे संदेश भी आ रहे हैं जिनमें गाली-गलौच का प्रयोगकिया गया है. मैं बोलना चाहता हूं कि लोगों को गाली-गलौच का प्रयोग नहीं करना चाहिए. लेकिन जब आप कोई बड़ा कार्य करने निकलते हैं तो संसार गलत मंशा से आपकी आलोचना भी करती है.

सरफराज के मोटापे पर क्या कहे मोमिन मोमिन साकिब ने मैच में पराजय के बाद जो रिएक्शन दी थी उसमें उन्हें पाकिस्तानी टीम के कैप्टन सरफराज की तोंद पर भी टिप्पणी की है. वार्ता में उन्होंने स्पष्ट करते हुए बोला है, "मैं बॉडी शेमिंग के विरूद्ध हूं. मैं रचनात्मक आलोचना के पक्ष में हूं." "समस्या जम्हाई लेने से नहीं है, बल्कि जम्हाई क्यों आ रही है, इस बात से समस्या है. आपके इंडिया में एसीपी प्रद्युम्न हैं. मैं उनका बहुत बड़ा फैन हूं. इसकी जाँच होनी चाहिए कि क्या खाना ज्यादा खाया, क्या नींद पूरी नहीं हुई, मुझे लगता है कि अब इस केस को सीआईडी को देना ही पड़ेगा."

इमरान खान के ट्वीट पर बात करते हुए मोमिन ने बोला कि इमरान खान ने ट्विटर हैंडल से लिखा है था लेकिन लंदन में बारिश की वजह से वो ट्वीट सरफराज तक पहुंचने में लेट हो गया.