MS Dhoni को लॉकडाउन के बाद क्या टीम इंडिया के कैंप में मिलेगी जगह

MS Dhoni को लॉकडाउन के बाद क्या टीम इंडिया के कैंप में मिलेगी जगह

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट बोर्ड यानी बीसीसीआइ छह हफ्ते के लिए टीम के टॉप क्रिकेटर्स के लिए कैंप शूरू करेगी. इस कैंप को लेकर अब ये अटकलें लगनी प्रारम्भ हो गई है कि क्या टीम इंडिया के पूर्व कैप्टन MS Dhoni इसमें भाग लेंगे. बीसीसीआइ कैंप के लिए सुरक्षित समय व जगह का इंतजार कर रही है जिसे जुलाई के तीसरे हफ्ते के बाद प्रारम्भ किया जा सकता है. ऐसे में ये तय नहीं है कि खिलाड़ी अपनी आइपीएल टीम के कैंप से जुड़ पाएंगे या नहीं.

एम एस धौनी को लेकर यहां सवाल उठ रहे हैं क्योंकि उन्हें केंद्रीय अनुबंध से भी बाहर कर दिया गया है, लेकिन अगर कैंप का आयोजन किया जाता है तो पूल से बाहर के कुछ खिलाड़ियों को इसमें शामिल किया जा सकता है. टीम इंडिया के पूर्व चीफ सेलेक्टर एमएसके प्रसाद ने बोला कि अगर टी20 वर्ल्ड कप होता है तो धौनी को बुलाया जा सकता है, लेकिन अगर द्विपक्षीय सीरीज खेली जाती है तो शायद अलग ढंग से सोचा जाएगा. मुझे नहीं पता कि टी20 वर्ल्ड कप होगा या नहीं, लेकिन अगर ये होता है तो कैंप में पक्के तौर पर धौनी होंगे. अगर द्विपक्षीय सीरीज होती है तो वहां केएल राहुल, रिषभ पंत व संजू सैमसन होंगे.

वहीं दूसरी तरफ टीम इंडिया के पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा को ऐसा लगता है कि अगर धौनी खेलना चाहते हैं तो उन्हें हर टीम में होना चाहिए. उन्होंने बोला कि अगर मैं सेलेक्टर होता तो धौनी मेरी टीम में जरूर होते, लेकिन बड़ा सवाल ये है कि क्या वो खेलना चाहते हैं या नहीं. क्या अब वो अपने करियर का अंत करना चाहते हैं. आइपीएल में खेलना धौनी के लिए अच्छा होगा अगर वो इसके बाद टीम इंडिया में वापसी करना चाहते हैं.

वहीं दीपदास गुप्ता ने बोला कि सेलेक्टर्स को धौनी से बात करनी चाहिए कि क्या वो कैंप का भाग बनना चाहते हैं. अगर धौनी उस कैंप का भाग होंगे तो ये छह हफ्ते तक चलेगा व ये अगले बैच के लिए लाभकारी होगा क्योंकि उन्हें बहुत ज्यादा कुछ सीखने को मिलेगा. अगर उनका आइपीेएल अच्छा रहा तो मैं उन्हें बाहर नहीं रखूंगा. अगर वो सीएसके के लिए चौथे नंबर पर खेलते हैं व 500 रन बनाते हैं तो क्या आप उन्हें नजरअंदाज कर सकते हैं.

वहीं बीसीसीआइ के एक ऑफिसर ने बोला कि अगर वो कैंप का भाग बनते हैं तो ये बहुत ज्यादा चौंकाने वाला होगा. वो लगभग एक वर्ष से नहीं खेले हैं. वो इस वक्त किस स्थिति में हैं हमें नहीं पता है. वो केंद्रीय अनुबंध में भी नहीं हैं व वो पिछले वर्ष वेस्टइंडीज के विरूद्ध टी20 सीरीज के लिए भी टीम में नहीं चुने गए थे. ऐसे में अगर वो कैंप के लिए बुलाए जाते हैं तो ये हैरानी भरा निर्णय होगा.