खुद को नंबर चार का बेहतरीन बल्‍लेबाज मानते हैं प्रियम गर्ग, कहा...

खुद को नंबर चार का बेहतरीन बल्‍लेबाज मानते हैं प्रियम गर्ग, कहा...

नई दिल्‍ली: अपनी कप्‍तानी में टीम इंडिया (Team India) को अंडर 19 वर्ल्‍ड कप (Under19 World Cup) के फाइनल तक ले जाने वाले कप्‍तान प्रियम गर्ग (Priyam Garg) ने बोला कि वह नंबर चार पर बल्‍लेबाजी करने में सहज हैं। उन्‍होंने बोला कि वो नंबर पांच पर भी बल्‍लेबाजी कर सकते हैं, मगर उन्‍हें लगता है कि वो आईपीएल (IPL) में चौथे नंबर पर अच्‍छा प्रदर्शन कर सकते हैं। प्रियम गर्ग खुद को नंबर चार के लिए तैयार कर रहे हैं व पिछले कुछ समय से टीम इंडिया की सबसे बड़ी समस्‍या नंबर चार की ही रही है व यही कमजोरी पिछले वर्ष इंग्‍लैंड में हुए वर्ल्‍ड कप के दौरान नजर आई थी।

हेलो ऐप पर लाइव सेशन में इस युवा बल्‍लेबाज प्रियम गर्ग ने बोला कि अंडर 19 वर्ल्‍ड कप के लिए जाते समय उन्‍होंने पृथ्‍वी शॉ व विराट कोहली (Virat Kohli) से बात की थी। उनसे उनके अनुभव के बारे में जाना था।

नींद नहीं आती
पहली बार नीली जर्सी मिलने पर प्रियम गर्ग ने बोला कि जब उन्‍हें नीली जर्सी पहली बार मिली थी तो उन्‍हें खुद पर बहुत ज्यादा गर्व हो रहा था। उन्‍हें उस रात नींद नहीं आ रही थी व अक्‍सर ऐसे समय नींद नहीं आती। प्रियम गर्ग ने बोला कि नीली जर्सी व उस लोगो का एक एक सपना था, जो सच बन गया। उन्‍होंने बोला कि जब वह अंडर 19 वर्ल्‍ड कप से वह वापस लौटे तो उनके पिता ने बोला कि उन्‍हें मुझ पर गर्व है। पराजय जीत तो चलती रहती है, मगर तुमने जो प्रदर्शन किया है, वो बहुत ज्यादा शानदार था। दरअसल अंडर 19 वर्ल्‍ड कप के फाइनल में हिंदुस्तान को बांग्‍लादेश के हाथों पराजय का सामना करना पड़ा था। इस बल्‍लेबाज ने बोला कि घर पर वो किसी से क्रिकेट के बारे में बात नहीं करते। बस इतनी ही बात होती है कि मैच जीते या नहीं

सबसे ज्‍यादा दोहरे शतक लगाना चाहते हैं प्रियम
प्रियम गर्ग ने बोला कि टेस्‍ट क्रिकेट उनका पसंदीदा फॉर्मेट है व उनका सपना सबसे ज्‍यादा दोहरे शतक लगाने का हैं। प्रेरणा लेने की बात पर इस युवा क्रिकेटर ने बोला कि वो व्‍यक्ति विशेष से प्रेरणा नहीं लेते। वो हमेशा सीखने के लिए तैयार रहते हैं। जूनियर से भी सीख सकते हैं तो ग्राउंड स्‍टाफ से भी वो सीखने के लिए तैयार रहते हैं।