हिंदुस्तान व साउथ अफ्रीका के बीच वनडे सीरीज रद

 हिंदुस्तान व साउथ अफ्रीका के बीच वनडे सीरीज रद

 कोरोना वायरस (Corona Virus) के चलते भारतीय प्रीमियर लीग (Indiian Premier League) के 13वें सीजन पर रद होने की तलवार लटक गई है। 

बीसीसीआई (BCCI) ने 29 मार्च से प्रस्तावित सीजन को पहले ही 15 अप्रैल तक के लिए टाल दिया है। अब सोमवार को आठों फ्रेंचाइजियों के बीच हुई अहम मीटिंग में भी कोई नतीजा नहीं निकल सका, जिसके बाद टूर्नामेंट के रद होने की संभावना बढ़ गई है। कोरोना वायरस के चलते हिंदुस्तान व साउथ अफ्रीका के बीच वनडे सीरीज भी रद कर दी गई है। अब आईपीएल के आगामी सीजन को लेकर आठों फ्रेंचाइजियों ने बड़ा कदम उठाया है।

अगले आदेश तक प्री टूर्नामेंट कैंप रद
दरअसल, फ्रेंचाइजियों ने अपने सभी खिलाड़ियों को छुटटी दे दी है। फ्रेंचाइजियों ने प्री टूर्नामेंट कैंप अगले आदेश तक रद कर दिए हैं। डेक्कन क्रॉनिकल की रिपोर्ट के अनुसार, विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने 21 मार्च से प्रारम्भ होने वाले अपने कैंप को रद कर दिया है। गत चैंपियन व आईपीएल इतिहास की सबसे पास टीम मुंबई इंडियंस, तीन बार की विजेता चेन्नई सुपरकिंग्स व दो बार की चैंपियन कोलकाता नाइटराइडर्स ने भी ऐसा ही किया है।

तीन प्रदेश सरकारों ने कर दिया था आईपीएल की मेजबानी से इनकार

कोरोना वायरस (Corona Virus) के बढ़ते मामलों पर भारतीय कैप्टन विराट कोहली ने भी चिंता जताई थी। उन्होंने बोला था कि स्वास्थ्य कारणों के चलते आरसीबी का ट्रेनिंग कैंप रद किया जा रहा है। हम सभी से आग्रह करते हैं कि स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशा-निर्देशों का पालन करें व सुरक्षित रहें। गत हफ्ते बीसीसीआई (BCCI) ने आईपीएल (IPL) को निलंबित कर दिया था। तीन प्रदेश सरकारों ने भी अपने यहां आईपीएल मैच की मेजबानी से मना कर दिया था।

कोरोना वायरस से छह हजार से अधिक मौतें
कोरोना वायरस (Corona Virus) से अब तक 6 हजार से अधिक लोगों की जान जा चुकी है, जबकि करीब डेढ़ लाख लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं। चेन्नई सुपरकिंग्स का कैंप रद होने के बाद टीम के कैप्टन महेंद्र सिंह धोनी भी चेन्नई से रवाना हो गए हैं। आईपीएल के जरिये लंबे समय बाद मैदान पर कदम रखने वाले धोनी की तैयारियां जोरों पर थी व उन्होंने एक्सरसाइज मैच में शतक भी लगाया था। अभी तक के दशा के हिसाब से इस बार का आईपीएल होना बेहद कठिन नजर आ रहा है। वो इसलिए कि अगर कोरोना वायरस जल्दी काबू में नहीं आता है तो फिर आगे के महीनों में आईपीएल आयोजित करने के लिए विंडो मिलना सरल कार्य नहीं है।